KBL Computer Center Reengus- +919571753399

Breaking News
recent

बाहरी लोगों का बाहर का रास्ता दिखाने व सीकर का मान सम्मान बचाने की लड़ाई है-महरिया





सीकर। 36 बिरादरी के नेता गणों की एक राय व एक मत होकर सर्वसमाज महापंचायत में यह निर्णय लिया था कि पार्टी की ओर से थोपे गए बाहरी प्रत्याषी को बाहर का रास्ता दिखाने व सीकर का मान सम्मान बचाने की 18 साल बाद फिर से क्षेत्रवासियों को इसकी आवष्यकता आ पड़ी है। यह बात सीकर संसदीय क्षेत्र के  जाने माने लोकप्रिय निर्दलीय प्रत्याषी सुभाष महरिया ने बुधवार को जनसम्पर्क के दौरान जनसभाओं को सम्बोधित करते हुए कही। महरिया ने कहा कि पार्टी के प्रत्याषी के घोषित होने के साथ ही सीकर जिले की आठ विधानसभा में रहने वाले क्षेत्रवासियों के चेहरे मुरझा गए थे। हर एक के मन में यह पीड़ थी कि आखिर किन समीकरणों को ध्यान में रखकर कार्यकर्ताओं की रायषुमारी दरकिनार करके प्रत्याषी घोषित किया गया है। नजीतन क्षेत्रवासियों ने अपनी आवाज को बुलन्द करने का निष्चय कर सर्वसमाज महापंचायत बुलाकर सर्वसम्मति से मुझे अपना प्रत्याषी घोषित किया। यह सब इतना आसान नहीं है। एक तरफ वह पार्टी हैं जिसकी बदौलत आपने मुझे तीन बार संसद में क्षेत्र का प्रतिनिधितत्व करने का मौका प्रदान किया वहीं दूसरी ओर किन्ही कारणों से मुझे अपनी ही पार्टी के प्रत्याषी के खिलाफ चुनाव लड़ने को मजबूर होना पड़ रहा है। अगर ऐसा करना किसी भी कार्यकर्ता के लिए इतना सहज नहींे है। इसके बावजूद क्षेत्रवासियों मन की आवाज व पीड़ा को समझते हुए सर्वसमाज इतना बड़ा निर्णय लिया है। किसी भी जनप्रतिनिधि की जीत के पीछे उन कार्यकर्ताओं का योगदान रहता है जो निस्वार्थ भाव से क्षेत्र के विकास को चहुमुखी देखने का सपना संजोएं है। आज फिर उसी जज्बे की आवष्यकता अनुभव की गई है जिसके दम खम सीकर संसदीय क्षेत्र का स्वाभिमान बचाने की मुहिम सफल होकर कार्यकर्ताओ का मान सम्मान बचाएंगे। महरिया ने कहा कि आज मुझे वो दिन याद आ रहे है जब 1998 में पार्टी की ओर से चुनाव लड़ने के लिए कोई भी प्रत्याषी सामने नहीं आ रहा था। सब बगले झाकते नजर आ रहे थे। उस समय मुझे बलि का बकरा बनाकर चुनाव मैदान में उतारा गया था। लेकिन उस सबके बावजूद मैंने आपके प्यार व विष्वास की बदौलत तीन बार सांसद व अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार में केन्द्रीय राज्य मंत्री के रूप में कार्य करने का मौका मिला। इस मौके को व्यर्थ नहीं जाने देते हुए मैंने सीकर क्षेत्र में हर राजस्व ग्राम का प्रधानमंत्री सड़क योजना से जोड़ा यहीं नहीं नियमों को दरकिनार करते हुए पाटन में नवोदय विद्यालय होने के बावजूद सीकर में केन्द्रीय स्कूल की स्थापना कराई। यह समय उपलब्यिों को गिनाने का नहीं बल्कि मौके की नजाकत को पहचान कर निर्णय लेने का है। इस समय कोई भी गलत लिया गया निर्णय पांच साल तक फोड़े डाल सकता है। क्षेत्र के मतदाताओं ने सदा ही मुझ पर भरोसा जताया है और मैंने भी उनके भरोसे को कभी भी टूटने नहींे दिया। यह सब तो अब आप लोगों को तय करना है कि आपको घर बेटा, भाई चाहिए जो आपके हर दुख दर्द में आपके साथ खड़ा मिले या वो चाहिए जो आपको जानता तक नहीं वो आपको किस प्रकार से आपका हमदर्द बन सकता है। महरिया ने कहा कि यह तो सामान्य सी बात है कि हम घर में उसी व्यक्ति को घुसने देते है जो हमारा परिचित हो अन्जान व्यक्ति को न तो घर में घुसाते है और न ही घर के भेद देते है। जनसम्पर्क के दौरान महरिया का जगह जगह भव्य स्वागत कर फूलमालाओं से लाद दिया गया। सिहोड़ी सरपंच रामेष्वर मीणा, सिहोड़ी पूर्व सरपंच सुन्दरलाल भंावरिया, हनुमान सहाय जी मिश्रा, महेन्द्र रैगर आसपुरा, आसपुरा पूर्व सरपंच ओमजी शर्मा, गढ़टकनेत सरपंच नाथु जी दूधवाला, अजीतगढ़ सरपंच बाबुलाल कुमावत, पूर्व प्रधान मक्खन शर्मा, श्रवण जी शेखावत महरोली, बिषनसिंह शेखावत महरोली, जयसिंह शेखावत, महरोली पूर्व सरपंच हणमान सिंह शेखावत, अरणियां सरपंच सीताराम बाजीगर, जमन यादव, डाइरेक्टर भूमि विकास बैंक मोहन शेषमा एवं अनेक अनप्रतिनिधी साथ थे।
                                                                
Unknown

Unknown

* S4U NEWS वेब पोर्टल पर खबरे भेजने के लिए सम्पर्क करें मो.9571753399 या अपनी खबरे भेजें - s4unews@gmail.com पर।* * अपने जिले की खबरे देखने के लिए जिले के नाम पर क्लिक करें। * RKCL के सभी IT-GK अपनी खबर भेजते समय जिले का नाम अवश्य डाले ताकि उस खबर को जिले के नाम के साथ लगाया जा सके। *

विज्ञापन

Blogger द्वारा संचालित.